मुंबई : गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कार विजेताओं की घोषणा हुई है। इस दौरान बॉलीवुड के सितारों में एकता कपूर, अदनान सामी, कंगना रानौत, करण जौहर, सुरेश वाडेकर और सरिता जोशी के नाम की घोषणा हुई है। हालांकि इन नामों के बीच में अदनान सामी का नाम देखकर राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने विरोध जताया है।

सामी को मिला पुरस्कार तो जताया विरोध

महाराष्ट्र नव निर्माण सेना का कहना है कि अदनान सामी असली भारतीय नागरिक नहीं है। पहले वे पाकिस्तानी थे लिहाजा उन्हें कोई पुरस्कार नहीं मिलना चाहिए। फिलहाल अदनान के नाम को केन्द्र सरकार वापस ले।

साल 2016 से हैं भारतीय नागरिक

विदित है कि मशहूर गायक और संगीतकार अदनान सामी का जन्म पाकिस्तान में हुआ था और उनकी मां जम्मू-कश्मीर से ताल्लुक रखती थी। हालांकि बाद में बॉलीवुड में काम करने के दौरान अदनान सामी ने भारत की नागरिकता ले ली है। उन्हें 1 जनवरी 2016 से भारतीय नागरिकता प्रदान की गई थी। अदनान अब भारत में रहते हैं। पद्म श्री मिलने की खबर के बाद लोग उन्हें लगातार बधाई दे रहे हैं। सोशल मीडिया पर लगातार बधाई मिलने के बाद अदनान सामी ने भी सभी का शुक्रिया अदा किया है और केन्द्र सरकार का पद्मश्री मिलने को लेकर आभार जताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here