लखनऊ : बा’बरी वि’ध्वं’स मा’मले में अ’दालत ने 28 साल बाद बड़ा फैसला सुनाया है और सभी आ’रोपि’यों को ब’री कर दिया है। सीबीआई की विशेष अ’दालत ने बुधवार को अपना फैसला सुनाते हुए बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी समेत अन्य सभी 32 आ’रोपि’यों को ब’री कर दिया है।

सभी आ’रो’पी ब’री

बा’बरी वि’ध्वं’स मा’मले में फैसला सुनाते हुए जज एसके यादव ने कहा कि विश्व हिन्दू परिषद नेता अशोक सिंघल के खि’ला’फ कोई सा’क्ष्य नहीं है। फैसले में कहा गया है कि फोटो, वीडियो, फोटोकॉपी में जिस तरह से स’बूत दिए गए हैं, उनसे कुछ साबित नहीं होता है। 

इस पूरे मामले पर जज एसके यादव ने फैसला सुनाते हुए कहा है कि ये घ’टना पूर्व नि’योजित नहीं थी। संगठन के द्वारा कई बार रोकने का प्रयास किया गया था। जज ने अपने शुरुआती कमेंट में कहा कि ये घ’टना अचानक ही हुई थी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here