पटना : बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सभी सियासी पार्टियां अपनी र’णनी’ति को धरातल पर उतारने में जुट गई है और चुनाव प्रचार के साथ अपने प’त्ते खोलने लगी हैं। इसी कड़ी में लोजपा सुप्रीमो चिराग पासवान ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर एकबार फिर ह’म’ला बोला है।

चिराग ने नीतीश को फिर घे’रा

चिराग पासवान ने नीतीश कुमार को घे’र’ते हुए कहा है कि उनसे अब ल’ड़ने का वक्त आ गया है। वो हमपर रा’ज करने के लिए ल’ड़ रहे हैं लेकिन हम खुद पर नाज करने के लिए ल’ड़ रहे हैं। अगर रा’ज करना होता तो नीतीश कुमार के साथ रहता लेकिन बिहार को और ब’र्बा’द होते नहीं देख सकता लिहाजा नीतीश कुमार के खि’लाफ बि’गूल फूं’क दिया है।

पहले भी कर चुके हैं वा’र

गौरतलब है कि इससे पहले भी चिराग ने नीतीश कुमार पर वार किया था और कहा था कि इस बार नीतीश कुमार को बिहार का मुख्यमंत्री नहीं बनने दूंगा। चिराग पासवान ने हुं’कार भरते हुए स्पष्ट कहा है कि इस बार वे बिहार में नीतीश कुमार की सरकार नहीं बनने देंगे। इसके साथ ही चिराग पासवान ने बिहार में उद्योग-धं’धों को लेकर हाल ही में नीतीश कुमार द्वारा दिए गये बयान पर भी ती’खा ह’मला बोला है।

दरअसल, कुछ दिन पहले नीतीश कुमार ने ला’चार’गी दिखाते बिहार की भौगोलिक स्थिति की बातें कही थी और कहा था कि चारों तरफ से हम लोग घिरे हुए हैं लिहाजा ज्यादा बड़े उद्योग समुद्र के किनारे के राज्यों में लगते हैं। हम लोगों ने तो बहुत कोशिश की लेकिन बड़े बिजनेसमैन बिहार नहीं आए। फिलहाल मुख्यमंत्री नीतीश की इन्हीं बातों को आधार बनाते हुए चिराग पासवान ने सीएम नीतीश पर वा’र किया है और कहा है कि इस बार नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री नहीं बनने देंगे।  

“नहीं बनने दूंगा नीतीश सरकार”

चिराग पासवान का स्पष्ट कहना है कि नीतीश कुमार ने पहली रैली में ही हा’र मान ली। वहीं,  चिराग ने कहा कि बिहार इकलौता लैंड लॉ’क्ड स्टेट नहीं है बल्कि दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, झारखंड, हिमाचल, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, असम जैसे राज्य भी हैं, जो चारों तरफ से जमीन से ही घिरे हुए हैं। इन राज्‍यों में से कई में बिहार के मु’काबले ज्‍यादा फैक्ट्रियां हैं।

“तय करने होंगे विकास के मापदंड”

लोजपा सुप्रीमो ने ये भी कहा कि डेढ़ दशक से नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री हैं लेकिन आज भी हम नली और गली पर बात करते हैं। किसी के घर के आगे चापाकल लग गया तो वो खुश है या कहीं सड़क बन गई तो खुश है लिहाजा हमें विकास के मापदंड तय करने और जानने की जरूरत है। नीतीश कुमार को तो पहले ही खेतों तक बिजली पहुंचा देनी चाहिए लेकिन अब वे सात निश्चय की बात कर रहे हैं। अगर मुख्यमंत्री को 5 साल और मिलते हैं तो बिहार के लिए ये चिं’ता का विषय है और मैं कभी अपने आप को मा’फ नहीं कर पाऊंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here