न्यूज डेस्क : शिवसेना सांसद संजय राउत और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के बीच शनिवार को एक होटल में हुई मुलाकात के बाद देश की सियासत में ग’रमाह’त आ गयी है लिहाजा हर कोई इस मुलाकात के मायने निकालने लगा है और बीजेपी-शिवसेना से स’ख्त स’वा’ल पूछ रहा है।

मुलाकात के बाद ग’रमा’यी सियासत

संजय राउत और देवेन्द्र फड़णवीस के बीच हुई इस मुलाकात के बाद अब शिवसेना और बीजेपी को सफाई देनी पड़ रही है। इस मसले पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि कई म’सलों पर चर्चा करने के लिए उनकी मुलाकात फडणवीस से हुई थी। वे पूर्व मुख्यमंत्री और वर्तमान में विपक्ष के नेता हैं।  

संजय राउत ने दी सफाई

शिवसेना नेता संजय राउत ने इस मुलाकात पर कहा था कि हमारे बीच वै’चारि’क म’तभे’द हो सकते हैं लेकिन हम दु’श्मन नहीं हैं। सीएम उद्धव ठाकरे को हमारी मीटिंग के बारे में पता था। इसके साथ ही संजय राउत ने कहा कि एनडीए के मजबूत स्तंभ शिवसेना और अकाली दल थे लेकिन अब दोनों एनडीए के हिस्सा नहीं है लिहाजा अब एनडीए नहीं रहा।

बीजेपी का बड़ा बयान

वहीं, बीजेपी ने सफाई देते हुए कहा है कि संजय राउत शिवसेना के मुखपत्र “सामना” के लिए देवेन्द्र फडणवीस का इंटरव्यू लेना चाह रहे थे, इसके लिए उन्होंने मुलाकात की है। महाराष्ट्र भाजपा के मुख्य प्रवक्ता केशव उपाध्ये ने कहा कि इस मसले पर देवेन्द्र फडणवीस ने कहा है कि वे बिहार में चुनाव प्रचार कर लौटेंगे, तब इंटरव्यू देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here