पटना : बिहार के पशु एवं मत्स्य विभाग के मंत्री मुकेश सहनी (Mukesh Sahni) ने नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट (Dream Project of Nitish Kumar) श’राबबं’दी (Liquor Ban) पर स’वाल उठाए हैं और बड़ी बात कह दी है। गया में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे मुकेश सहनी ने कहा कि बिहार में श’राबबं’दी का’नून जितना सफल होना चाहिए था, उतना निश्चित रूप से नहीं हुआ है।

सालाना नु’कसान के बावजूद का’नून लागू

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश में 7 हजार करोड़ रुपये के सालाना नु’कसान के बावजूद भी ये का’नून लागू है लेकिन सफल नहीं हुआ। इसके लिए आम जनता को भी जागरूक होने की जरूरत है। लोग इसकी जानकारी पुलिस को दें या फिर उसकी वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दें ताकि पुलिस का’र्रवाई कर सकेगी।

विदित है कि बिहार में रोजाना भा’री मात्रा में श’राब की खे’प पकड़ी जा रही है। इस दौरान श’राब त’स्करों की बड़ी चा’लाकी भी सामने आ रही है। छपरा में भी श’राब त’स्करों की चा’लाकी सामने आयी है, जहां अ’लकतरा के टैंकर के जरिए श’राब की त’स्करी करने का बड़ा खु’लासा हुआ है।

’कड़ी गई श’राब त’स्करों की चालाकी

त’स्कर ज’ले हुए मोबिल के टैंकर में भारी मा’त्रा में श’राब भरकर ला रहे थे। हालांकि मौका रहते ही उत्पाद विभाग की टीम ने त’स्करों की चालाकी पकड़ ली और भारी मात्रा में श’राब को ज’ब्त कर लिया। हालांकि इस दौरान त’स्कर वहां से भा’गने में सफल रहे। श’राब की कीमत लगभग 11 लाख से अधिक बतायी जा रही है।  

दरअसल, श’राब त’स्करों की ये चा’लाकी पकड़ी जा रही है। हाल के दिनों में उत्पाद विभाग ने इसतरह के मा’मलों का खु’लासा किया है। बताया जा रहा है कि कुल 176 का’र्टन श’राब ज’ब्त की गई है। उत्पाद विभाग की माने तो ये का’र्रवाई गु’प्त सूचना के आ’धार पर की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here