न्यूज डेस्क : एकबार फिर दिल द’हला देने वाला हा’दसा हुआ है, जहां 110 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से जब ट्रेन गुजरी तो पूरे रेलवे स्टेशन में कं’पन होने लगा और रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग भ’रभरा कर नीचे गि’र गई है। जी हां, ऐसी दिल द’हला देने वाली घ’टना सामने आयी है, जिसके बाद वहां मौजूद कर्मिचारियों के हो’श उड़ गये हैं।

’रभरा कर गि’रा रेलवे स्टेशन

ये पूरा मा’मला मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले की है, जहां मुंबई-दिल्ली लाइन पर पर एक छोटा सा स्टेशन है चांदनी रेलवे स्टेशन। इस स्टेशन पर ज्यादातर लंबी दूरी की गाड़ियां रुकती भी नहीं हैं लेकिन जब यहां से तेज रफ्तार में पुष्पक एक्सप्रेस गुजरी तो ट्रेन के गुजरते ही रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग में कं’पन शुरू हो गई।

ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के लिए रेलकर्मी प्रदीप कुमार पवार बाहर निकले थे, इसकी वजह से वह हा’दसे के शि’कार नहीं हुए। कं’पन के बाद बिल्डिंग भ’रभरा कर गि’रने लगी। हा’दसे के वक्त स्टेशन पर यात्री नहीं थे और रेलवे स्टॉफ भी ज्यादा नहीं थे। इसकी वजह से कोई च’पेट में नहीं आया ।

17 साल पहले बनी थी बिल्डिंग

इस हा’दसे के बाद इस मार्ग पर रेलवे परिचालन बा’धित हो गया। हा’दसे के बाद करीब दो घंटे तक ट्रेनों को आउटर पर रोककर रखा गया। उसके बाद यहां से गाड़ियों को स्पीड कम कर निकाला गया। भवन गि’रने के बाद बिल्डिंग निर्माण पर स’वाल उठ रहे हैं क्योंकि रेलवे स्टेशनों के निर्माण में क्वालिटी से समझौता नहीं होता है।

बताया जाता है कि चांदनी रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग का निर्माण साल 2004 में हुआ था लिहाजा अभी मात्र 17 साल ही हुए हैं लिहाजा इसके कंस्ट्रक्शन को लेकर कई स’वाल खड़े किए जाने लगे हैं। इस घ’टना के बाद रेलवे अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर मुआयना किया है और रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here